Health

मात्र खुछ दिनों में तरबूज खाकर वजन कंटोल या कम कर सकते है

गर्मियों में अधिक पानी पीने से कई गंभीर रोगों से बचाव किया  जा सकता है । ऐसे में तरबूज सबसे ज्यादा पानी से युक्त फलों में से एक है। इस फल का सेवन करने से  शरीर में पानी की कमी नही रहती है  । वहीं अगर आप वजन घटाने के बारे में भी सोच रहे हैं तो इस फल के साथ आप अपने वजन को भी ठीक कर पाएंगे। यहां आज आपको इसको डाइट प्लान में शामिल करने के सही तरीके के बारे में जानकारी बता रहे है

जयपुर :  तरबूज (Watermelon) फल स्वादिष्ट भी है, हेल्दी भी और महंगा भी नहीं है। हमारे शरीर की ही तरह इस फल में भी अधिकतर हिस्सा पानी का ही होता है। इस फल में 92 प्रतिशत पानी मौजूद होता है। इसमें मौजूद पानी शरीर के टॉक्सिन्स/गंदगी को निकालकर आपकी भूख को कंट्रोल करने में मदद करता है।

डॉक्टर दीपा सिंह ,  जयपुर  के अनुसार, तरबूज का एक संतुलित आहार में अपना महत्व है। इस फल में 90 प्रतिशत पानी है, इसलिए यह शरीर को हाइड्रेटेड बनाए रखता है। इसमें विटामिन A,C, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन और एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं। तरबूज में मौजूद यह पोषक तत्व आपको दिल की बीमारी, कैंसर आदि जैसी बिमारियों से बचाने में मदद कर सकते हैं। तरबूज में 0 L-Arginine और Citrulline समेत कई एंटीऑक्सिडेंट्स हैं। इससे व्यायाम के बाद होने वाली सूजन को कम करने में मदद मिलती है और इम्युनिटी भी बूस्ट होती है। Watermelon diet को अधिकतर शरीर से टोक्सिन यानि गंदगी निकालने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इससे वजन घटाने में मदद मिलती है। यह इन्फेक्शन्स को भगाता है और बॉडी में एनर्जी बूस्ट करता है। इससे आपके मेटाबोलिज्म पर असर पड़ सकता है। कुछ स्टडीज के अनुसार, क्रैश डाइट से वजन घट सकता है और डाइबिटीज में बेहतरी हो सकती है। इन सभी फायदों के बावजूद, हर डाइट के कुछ नुकसान भी होते हैं। ऐसा हो सकता है कि सिर्फ तरबूज खाने से पहले से मौजूद दिल की बीमारी में इजाफा हो जाए। इसमें प्रोटीन और फैट का कोई स्त्रोत नहीं रहता। इस डाइट को प्रेग्नेंट महिलाऐं और बच्चे न करें। इसी के साथ कम इम्युनिटी पावर वाले और डायबिटीज में किसी स्पेशल डाइट को फॉलो करने वाले लोग भी न करें। इस तरह की डाइट तभी काम करती हैं, जब इसके बाद आप दोबारा फैटी फूड खाना न शुरू कर दें।

कैसे काम करता है तरबूज?
सबसे अच्छी बात यह है कि तरबूज खाने से आपका शरीर हमेशा हाइड्रेटेड रहता है और जब आपके शरीर में आवश्यकता अनुसार पानी होता है तो वह ठीक ढंग से काम करता है। इसी के साथ जब शरीर हाइड्रेटेड होता है तो प्यास को भूख समझकर आप ओवर-ईटिंग नहीं करेंगे। इसी के साथ यह आपके स्वीट टूथ का भी ध्यान रखता है यानी कि आप मीठे के शौकीन हैं तो इस लो-कैलोरी फल में अपनी मिठास भी है। इसमें 1.1 ग्राम्स फाइबर है जिससे आपको लम्बे समय तक पेट भरा हुआ लगता है।

कैसे वजन घटाने में करता है मदद?
तरबूज के इन्हीं फायदों के कारण Watermelon Diet लेटेस्ट ट्रेंड बन गया है। हालांकि, यह कोई आधिकारिक डाइट प्लान नहीं है। यह शरीर को साफ करने की डाइट कहा जा सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि तरबूज में काफी पानी होता है। इस डाइट के तहत यह दावा किया जाता है कि इससे वजन घटने में मदद मिलती है। इससे शरीर का अतिरिक्त पानी, गंदगी, सॉल्ट आदि निकलता है।

कैसे तरबूज को डाइट में शामिल करे Watermelon diet?

इस डाइट को हफ्ते में पांच दिन किया जाता है। लोगों को यह डाइट इसलिए भी पसंद आती है क्योंकि इसे लम्बे समय तक फॉलो नहीं करना होता है। इसके साथ ही उन्हें पूरे दिन कुछ ऐसा नहीं खाना पड़ता जिसमे कोई स्वाद न हो।

1.  इस डाइट की शुरुआत 3 दिनों से की जाती है। इसके बाद, धीरे-धीरे आप अपनी नार्मल डाइट पर शिफ्ट हो जाएं।
2.  3 दिन की डाइट के बाद अपनी नार्मल डाइट में आने के बाद फिर से इसे 5 दिनों के लिए किया जा सकता है।
3.  इसके अलावा, आप दिन में दो बार अपनी नार्मल डाइट का खाना खाएं और बीच में सिर्फ तरबूज खाएं।
4. इसके अलावा, अपने खाने में थोड़ी कमी कर के उसमें तरबूज को जोड़ लें।

किसी भी डाइट के समय यह ध्यान देने वाली बात है कि डाइट खत्म होते ही अगर आप चाउमीन, समोसे आदि खाने लगेंगे तो इसका कोई फायदा नहीं होगा। Watermelon diet वजन घटाने में आपको एक बड़ी शुरुआत दे सकता है। उसके बाद भी आपको अपनी डाइट को ठीक रखने की जरूरत पड़ेगी। इसी के साथ प्रेग्नेंट महिलाऐं और जिन लोगों को तरबूज से एलर्जी है या जिनका इम्युनिटी सिस्टम बहुत लो है, वो इसे ट्राई न करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *